शिक्षा विभाग, पुलिस विभाग , स्वास्थ्य विभाग में लाखों पद रिक्त , देखें विभागवार आंकड़ा 24 Lakh Posts Vacant Unemployed Longing For Job

सरकार ने पेस किये बेरोजगारी के आंकड़े , 24 लाख पद खाली फिर भी भर्तियां नहीं कर रही सरकार , देखें विभागवार रिक्त पद 24 Lakh Posts Vacant Unemployed Longing For Job

a2zkhabri.com नई दिल्ली - देशभर में इस वक्त 24 लाख से भी ज्यादा सरकारी नौकरियों के पद खाली है। बेरोजगार नौजवान युवा नौकरी के लिए दर - दर भटक रहे है। लेकिन केंद्र सरकार और राज्य सरकार इन पदों पर भर्तियां नहीं कर रही। जबकि देशभर के बेरोजगार युवा नौकरी के तलाश में भटक रहे है। देशभर में इस वक्त 24 लाख से भी सरकारी नौकरी के पद रिक्त है। देश भर में समय के साथ - साथ  सरकारें बदलती रहती है , लेकिन देश का भविष्य गढ़ने वाले नौजवान युवा हर बार छले जाते है। बेरोजगार युवाओं का दर्द सिर्फ बेरोजगार युवा ही समझ सकते है। 

ब्रेकिंग - छ. ग. स्वास्थ्य विभाग रेगुलर भर्ती , जिलावार पद विवरण जारी। 

इन विभागों में है खाली पद - देशभर में कोई ऐसा कोई भी विभाग नहीं है जिसमे खाली पद न हो। केंद्र सरकार एवं राज्य सरकार चुनाव के समय तो देश के बेरोजगार युवाओं से बहुत वादा करती है, लाखों करोड़ों पदों में नौकरी देने की बात करती है , लेकिन सरकार बनने के बाद उनके वादे सिर्फ चुनावी मुद्दे होते है। देशभर में शिक्षा विभाग , पुलिस विभाग, स्वास्थ्य विभाग , रेलवे विभाग , डाक विभाग, न्यायालय में , राजस्व विभाग, कृषि विभाग सहित अन्य सभी विभागों में लाखों पद खाली है। देशभर में इतने रिक्त पद होने से देश की तरक्की में बाधा तो पहुंचती है साथ ही नौजवान एवं योग्यताधारी बेरोजगार युवाओं का भविष्य भी ख़राब हो रहा है। 

इसे भी देखें - डाक विभाग सरकारी नौकरी भर्ती , जल्द करें आवेदन। 

सबसे ज्यादा शिक्षकों के पद है रिक्त - संसद में सरकार द्वारा पेस किये गए आकड़ों के मुताबिक़ देशभर में सबसे ज्यादा रिक्त पद शिक्षकों के है। प्राप्त आंकड़ा अनुसार प्राथमिक शिक्षकों के खाली पदों की संख्या 09 लाख से भी अधिक है। जबकि माध्यमिक शिक्षकों के रिक्त पदों की संख्या 1.1 लाख के करीब है। यदि सर्व शिक्षा अभियान के तहत और पदों को जोड़ दी जाए तो संख्या और बढ़ेगी। 

ब्रेकिंग - 10000 रेगुलर पदों में भर्ती का ऐलान , देखें विभागवार पद डिटेल। 

पुलिस विभाग में 5.4 लाख पद रिक्त - रिक्त पदों के संख्या के मामले में पुलिस विभाग दूसरे नंबर है। देशभर में करीब 5.4 लाख पुलिस के रिक्त है। पुरे देश के अंदर सुरक्षा की जिम्मेदारी पुलिस विभाग  अधिकारियों एवं कर्मचारियों की होती है। आप अंदाजा लगा सकते है कि इतने पद रिक्त होने के क्या दुष्परिणाम होंगे। पुलिस विभाग के अतिरिक्त डिफेन्स सर्विसेज और पैरामिलिट्री फोर्सेस में करीब सवा लाख पद रिक्त है। उक्त रिक्त पदों की जानकारी बीते माह संसद में दी गई थी। 

इसे भी देखें - छत्तीसगढ़ व्यापम 3000 पदों में होगी बम्पर भर्ती। 

स्वास्थ्य विभाग में भी खाली पद - जारी आकड़ा अनुसार देश भर में स्वास्थ्य विभाग के अंदर 1.6 लाख रिक्त पद है। स्वास्थ्य विभाग की गिनती सबसे प्रमुख और जरुरी विभाग के रूप में होती है। यदि स्वास्थ्य विभाग में कर्मचारी ही नहीं होंगे तो फिर स्वास्थ्य सुविधा की उम्मीद की आप अंदाजा लगा सकते है। वही देशभर के अदालतों में करीब 60000 हजार पद रिक्त है। जब न्यायालयों में ही स्टाफ की कमी होगी तो कई केस कई वर्षों तक चलेंगे ही। वही भारतीय डाक विभाग में 54000 हजार पद खाली है। 

रेलवे में लाखो पद खाली - रेलवे में अराजपत्रित पदों के करीब 2.5 लाख पद रिक्त है। लेकिन सरकार फिलहाल 89000 पदों में भर्ती हेतु नोटिफिकेशन जारी किया है। सवाल यह उठ रहा है की जब इतने बड़े पैमाने पर पद खाली है तो सरकार क्यों भर्ती नहीं कर रही। क्यों हरेक भर्ती पर रोक लगी है। वही कई विभागों में भर्ती प्रक्रिया सालों साल चलती है। नियम कानून में पेच फसाकर कई वर्षों तक केसों को कोर्ट में लटकाकर रखा जाता है। आखिरकार कब होगी बेरोजगारों से न्याय। केंद्र सरकार और राज्य सरकारों को सभी विभागों के रिक्त पदों पर तत्काल भर्ती करनी चाहिए। 

Post a Comment

0 Comments