सहायक शिक्षकों का मांग जायज - शिक्षामंत्री , सहायक शिक्षकों को जल्द मिलेगी सौगात The Demand For Assistant Teachers Is Justified , Soon The Demand Will Be Fulfilled

 छत्तीसगढ़ स्कूल शिक्षा मंत्री डॉ. प्रेमसाय सिंह टेकाम का बड़ा बयान , सहायक शिक्षकों के मांग  सही, जल्द पूरा करने का दिलाया भरोसा Sahayak Shikshakon Ka Mang Sahi - CG Education Minister 

a2zkhabri.com रायपुर - प्रदेश के राजधानी रायपुर में सहायक शिक्षकों की जंगी प्रदर्शन के बाद छत्तीसगढ़ स्कूल शिक्षा मंत्री का बड़ा बयान सामने आया है। उन्होंने सहायक शिक्षकों के मांग वेतन विसंगति को जायज बताया, और प्रदेश के सहायक शिक्षकों को भरोसा दिलाया है की उनकी मांगो पर बहुत जल्द सकारात्मक फैसला लिया जायेगा। ज्ञात हो की उक्त बयान सहायक शिक्षकों के रायपुर में धरना प्रदर्शन के बाद तुरंत जारी किया गया है। 

फेडरेशन के पदाधिकारियों को चर्चा हेतु बुलाया - राजधानी रायपुर में सहायक शिक्षकों की भीड़ और जोरदार प्रदर्शन को देखते हुए प्रदेश के शिक्षा मंत्री ने फेडरेशन के पदाधिकारियों को देर शाम चर्चा हेतु आमंत्रित किया। चर्चा के दौरान फेडरेशन के पदाधिकारियों ने वेतन विसंगति के मुद्दे को बड़े अच्छे ढंग से मंत्री महोदय के सामने रखें। चर्चा के दौरान मंत्री महोदय ने सहायक शिक्षकों के वेतन विसंगति को सही ठहराते हुए जायज बताया और जल्द से जल्द पूरा करने का आश्वासन दिया। 

15 दिवस में मांग पूरी नहीं होने पर फिर बनेगी आंदोलन की रणनीति - फेडरेशन के पदाधिकारियों ने माननीय मंत्री महोदय से चर्चा करने के बाद समाचार चैनल के दिए गए बयान में बताया की शिक्षा मंत्री से वेतन विसंगति के मुद्दे पर चर्चा सकारात्मक रही , माननीय मंत्री जी ने वेतन विसंगति को स्वीकार करते हुए मांग को जल्द पूरा करने का भरोसा दिलाया है। 

इसे भी देखें- सहायक शिक्षकों को जल्द मिलेगी सौगात, वेतन विसंगति दूर करने की तैयारी। 

फेडरेशन के पदाधिकारियों ने अपने  संगठन की ओर से बात रखते हुए कहा की 15 दिवस के अंदर मांग पूरा नहीं होने पर पुनः शिक्षा मंत्री से चर्चा करेंगे। यदि मांग के सन्दर्भ में किसी भी प्रकार की कार्यवाही नहीं होती है तो  आगामी रणनीति बनाकर अनिश्चित कालीन जोरदार धरना प्रदर्शन जारी रखने की बात कही। 

अन्य जानकारी इसे भी अवश्य पढ़ें - 

शिक्षक, ग्रंथपाल,छात्रावास अधीक्षक  फिर होगी पुनः रेगुलर भर्ती। 

शिक्षा विभाग ब्रेकिंग- अब ऑनलाइन होंगे स्थानांतरण , सिफारिश का सिस्टम बंद। 

नई पेंशन नीति के दुष्परिणाम व्याख्याता का बन रहा  599 रु. पेंशन। 

छत्तीसगढ़ सब इन्स्पेक्टर भर्ती , देखें विवरण। 

सरकारी कर्मचारी को तीन किस्तों में होगा डीए का एरियस भुगतान। 

10 से 12 हजार रूपये सहायक शिक्षकों को हो रहा नुकसान - सहायक शिक्षकों को वेतन विसंगति के कारण प्रतिमाह 10 से 12 हजार रूपये का आर्थिक नुकसान प्रतिमाह हो रहा है। सहायक शिक्षकों को एक  कार्य करते हुए 22 से 23 साल हो चुके है , न तो उन्हें पदोन्नति दी गई और न ही क्रमोन्नति। प्रदेश के एक लाख से भी अधिक सहायक शिक्षक फेडरेशन पर भरोसा करते हुए उनके साथ खड़े हुए है। सभी सहायक शिक्षक किसी अन्य शिक्षक संगठन के बहकावे में न आते हुए सिर्फ फेडरेशन के बैनर तले अंदोलन करने तत्पर है। 

कृषि मंत्री श्री रविंद्र चौबे ने भी दिलाया भरोसा - सहायक शिक्षकों के वेतन विसंगति के मुद्दे पर प्रदेश के वरिष्ठ कांग्रेस नेता और केबिनेट मंत्री श्री रविंद्र चौबे ने भी अप्रैल तक मांग पूरा करने का भरोसा दिलाया है। साथ ही नई ट्रांसफर नीति लाने का बयान भी जारी किये है। उन्होंने अपने बयान में कहा की सहायक शिक्षकों की मांग सही है और अप्रैल तक फैसला होने की उम्मीद जताई है साथ ही  स्थानांतरण प्रक्रिया जल्द शुरू की जानकारी भी दिए। 

Post a comment

0 Comments