मोहल्ला क्लास लगाना शिक्षक को पड़ा भारी 22 स्कूली बच्चे सहित पालक कोरोना पॉजिटिव CG 22 Students Corona Positive 2021

 छत्तीसगढ़ मोहल्ला कक्षा से  22 स्कूली बच्चे सहित पालक आये कोरोना के चपेट में CG Kondagaon 22 Students Corona Positive 2021 


a2zkhabri.com - कोरोना संक्रमण के दौर में शिक्षक को मोहल्ला क्लास लगाना महंगा पड़ गया है। क्योंकि मिली जानकारी के अनुसार मोहल्ला क्लास में पढ़ने वाले 22 बच्चों सहित कुछ पालक भी संक्रमित हो चुके है। गली मोहल्ले में क्लास लगाना सुरक्षित नहीं है , अब इसके जिम्मेदार कौन है। अब देखते है इस प्रकार की घटना के बाद विभाग क्या निर्णय लेती है 

मिली जानकारी के अनुसार कोंडागांव जिले के बड़े राजपुर विद्यालय में अध्ययन रत बच्चों के बड़ी संख्या में कोरोना संक्रमित होने की जानकारी मिली है। साथ ही कई बच्चों के पालक भी कोरोना के चपेट में आ चुके है। 
 डीपीएम ने बताया कि बड़े राजपुर माध्यमिक विद्यालय में अध्ययन रत 22 बच्चों की एंटीजन किट से कोरोना जाँच में पॉजिटिव पाया गया है। सभी बच्चे 11 से 14 वर्ष के है।

अन्य प्रमुख विभागीय खबर - 

 इस वर्ष भी होगा बच्चों जनरल प्रमोशन , आदेश जारी। 

 16 जून से खुलेंगे अब स्कूल, देखें शिक्षा मंत्री का बयान। 

 पदोन्नति , क्रमोन्नति का मांग अभी नहीं होगा पूरा - मुख्यमंत्री। 

संक्रमित पाए गए बच्चों को होम आइसोलेट किया गया है। सभी बच्चों को शनिवार के दिन कोविड - 19 चिकित्सालय भेजा जाएगा। विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों के संपर्क में आये बच्चो व परिवारों की जाँच की जाएगी। 

अन्य महत्वपूर्ण विभागीय खबर 👇- 

कर्मचारियों और अधिकारियों के समयमान वेतनमान का होगा सत्यापन CG Government Employees Salary Slip Verification 2021 

a2zkhabri.com बिलासपुर - छत्तीसगढ़ व्याख्याता संघ के मांग के अनुरूप संयुक्त सचिव वित्त ने 25 जनवरी को कोष लेखा को पत्र लिखा है। इसमें बिलासपुर संभाग के कर्मचारियों , अधिकारियों की तृतीय समयमान , वेतनमान का सत्यापन अब हो सकेगा। 

व्याख्याता संघ ने तृतीय समयमान वेतनमान के आठ अगस्त 2018 में आवश्यक संसोधन की मांग इसमें प्रथम नियुक्ति तिथि के साथ आंशिक सीधी भर्ती शब्द जोड़ा जाय इससे सभी संवर्ग के कर्मचारियों के तृतीय समयमान वेतनमान का लाभ मिल सके। कई बार संघ ने वित्त विभाग को पत्र लिखकर समस्या के साथ सुझाव भी दिया। 

राज्य के सभी संयुक्त संचालक कोष लेखा से अभिमत लेकर संचालक ने अंतिम रूप से अपना अभिमत दिया कि प्रथम नियुक्ति तिथि के साथ आंशिक सीधी भर्ती शब्द जोड़ा जाय और इस पर वेतनमान निर्धारण की कार्रवाई किया जाय।अब संघ के प्रयास से सेवा पुस्तिका का सत्यापन संभव हो सकेगा। इससे उनकी एक बड़ी मांग पूरी हो गई। इसके लिए व्याख्याता संघ के प्रदेश अध्यक्ष राकेश शर्मा ,महामंत्री राजिव वर्मा,गोवर्धन झा,सुरेश अवस्थी, टी.के. वर्मा एवं जीतेन्द्र शुक्ल सहित अन्य ने आभार व्यक्त किया। 

Post a comment

0 Comments