छ.ग. 2000 पदों में ट्रैफिक पुलिस भर्ती CG Traffic Police Bharti Post - 2000 Detail Notification

राज्य में जल्द होगी 2000 ट्रैफिक पुलिस की भर्ती , पुलिस विभाग ने तैयार किया प्रस्ताव CG Traffic Police Bharti Post - 2000 Detail Notification 2022 

a2zkhabri.com रायपुर - प्रदेश में ट्रैफिक पुलिस विभाग के अंतर्गत सरकारी नौकरी की तलाश कर रहे योग्यताधारी बेरोजगार अभ्यर्थियों के पास ट्रेफ़िस पुलिस के पदों में सरकारी नौकरी पाने का सुनहरा अवसर है। क्योंकि अभी हाल ही पुलिस विभाग द्वारा ट्रेफिक पुलिस के 2000 पदों में भर्ती हेतु प्रस्ताव तैयार कर लिया है। वित्त विभाग और राज्य सरकार से जल्द ही उक्त पदों में भर्ती करने की स्वीकृति मिल जाएगी। वित्त विभाग से स्वीकृति मिलते ही भर्ती प्रक्रिया शुरू की जाएगी। 

ब्रेकिंग  - छ.ग. शिक्षक पात्रता परीक्षा ऑनलाइन आवेदन जारी ,, 09 जनवरी को होगी परीक्षा। 

2000 पदों में होगी भर्ती - राज्य निर्माण के बाद छत्तीसगढ़ में पहली बार 2000 ट्रैफिक पुलिस के पदों में भर्ती होगी। इस समय ट्रेफिक पुलिस में एआईजी , एएसपी , एसपी के आरक्षक स्तर के कर्मचारी ट्रेफिक ब्यवस्था दुरुस्त करने में लगे है। साथ ही सभी जिलों और तहसीलों में अतिरिक्त अमले को तैनात किया जाएगा। जिला पुलिस बल में भर्ती के बाद उन्हें प्रशिक्षण देकर ट्रैफिक पुलिस में भेजा जाएगा। बता दे कि इस समय ट्रेफिक पुलिस में करीब 1400 लोगों का अमला है। 

इसे भी देखें- जिला एवं सत्र न्यायालय में निकली 12 वीं पास हेतु बंपर सरकारी नौकरी। 

अमले की भारी कमी - छत्तीसगढ़ राज्य निर्माण के समय राज्य में 16 जिले और 60 तहसीलें थी। वही वर्तमान में 32 जिले और 125 तहसीलें हो गए है। अमले की कमी के कारण जिला पुलिस बल के जवानों को ट्रेफिक ब्यवस्था दुरुस्त करने की जिम्मेदारी दी जाती है। इस तरह से राज्य में ट्रेफिक पुलिस के पदों में भर्ती की नितांत आवश्यकता है। वही राज्य के योग्यताधारी बेरोजगारों को भी सरकारी नौकरी पाने का अवसर मिलेगा। 

ब्रेकिंग- छत्तीसगढ़ वनरक्षक के 291 पदों में भर्ती जारी , देखें विज्ञापन। 

राज्य में 66 लाख वाहन रजिस्टर्ड - परिवहन विभाग में लगभग 66 लाख वाहन रजिस्टर्ड है। वही राज्य निर्माण के समय वाहनों की संख्या 25 लाख थी। वाहनों की संख्या में भारी वृद्धि के कारण सड़कों में हमेशा ट्रेफिक जाम की स्थिति भी निर्मित रहती है। वाहनों की संख्या में वृद्धि के हिसाब से अमले को बढ़ाया नहीं गया है। जिस कारण से ट्रेफिक कर्मचारी की संख्या में भारी कमी है। 2000 पदों  बाद यातायात पुलिस के ऊपर दबाव कम होगी। 

Post a Comment

0 Comments