कोरोना के लक्षणों में बदलाव , इन नए लक्षणों को नजरअंदाज करना पड़ सकता है भारी Change In Corona Symptoms , CG Corona Latest Update

कोरोना के नए लक्षण बन रहा मौत का कारण, नए लक्षणों की पहचान कर तत्काल इलाज कराएं, नए लक्षणों को नजर अंदाज करना पड़ रहा भारी Change In Corona Symptoms , CG Corona Latest Update 

a2zkhabri.com रायपुर - कोरोना का दूसरा लहर प्रदेश में महामारी बनकर आया है। पिछले वर्ष के कोरोना लक्षणों के साथ - साथ इस बार हजारों मरीजों में नए लक्षण देखें जा रहे है। इन्ही नए लक्षणों को पहचान करने में देरी मरीजों के मौत कारण बन रहा है। कोरोना वायरस के शुरूआती लक्षणों को पहचान कर तत्काल इलाज कराना अनिवार्य है। इलाज में लापरवाही या देरी करना जान पर आफत बन गई है। 

अन्य जरुरी खबर इसे भी अवश्य पढ़ें 👇- 

कचरा गाडी से ढोया जा रहा मरने वालों का शव। 

सीजी 10 वीं बोर्ड परीक्षा रद्द , मिलेगी  प्रमोशन - शिक्षा मंत्री 

डाक्टरों के अनुसार बहुत उच्च संचरण दर के साथ - साथ कोरोना के दूसरी लहर के दौरान कोविड - 19 के लक्षणों में मामूली और सूक्ष्म परिवर्तन हुए है। जिससे वायरस का पहचान करना मुश्किल हो रहा है। डॉ. भी कोरोना संक्रमण के दूसरे लहर में मरीजों के लक्षणों में कई नए लक्षणों की बात कर रहे है। पिछले कुछ दिनों से बड़ी संख्या में ऐसे लोगो को भी संक्रमित पाया जा रहा है जिसे न तो बुखार है और न ही सर्दी। ये लोग डाक्टर के पास बदन दर्द, सर दर्द , डायरिया , पेट दर्द की शिकायत लेकर पहुंचे थे। जाँच कराने पर वे लोग भी कोरोना संक्रमित निकले। 

कोरोना के नए लक्षण - कोरोना के दूसरी लहर में कई नए लक्षणों की पुष्टि हुई है यदि आप नीचे दिए गई कोई लक्षण से प्रभावित है तो कृपया नजरअंदाज न करें तत्काल डॉ. से संपर्क कर समुचित उपचार कराएं - 

     थकान 

     कमजोरी 

     सुस्ती 

     बदन दर्द 

     डायरिया 

     उल्टी 

कोरोना के पुराने लक्षण - पिछले वर्ष कोरोना मरीजों में प्रमुख रूप से निम्न लक्षणों को पाया जाता था , जो इस वर्ष भी जारी है कुछ मरीजों में नए लक्षणों की पुष्टि भी हुई है - 

     साँस लेने में दिक्कत या साँस फूलना 

     सीने में दर्द या दबाव 

     बोलने चलने फिरने में असमर्थ 

     गले में खराश

     सर्दी 

     खांसी 

     तेज बुखार 

     दस्त 

     आंख आना 

     सिरदर्द 

     स्वाद और गंध का पता न चलना 

छत्तीसगढ़ में और खतरनाक हो रहा कोरोना - प्रदेश में कोरोना दिन प्रतिदिन और खतरनाक होते जा रहा है। प्रतिदिन 15 से 16 हजार नए कोरोना संक्रमितों की पहचान की जा रही है। वही मरने वालों का आकड़ा प्रतिदिन 150 के आसपास रहती है। छत्तीसगढ़ में वर्तमान में सक्रीय केस 124303 है। सक्रीय केसों के मामले में देश में दूसरा स्थान पर है। राज्य में अब तक 5580 लोगों की मौत हो चुकी है। 

कोरोना से बेहाल श्मशान में हाहाकार - राज्य में मरने वाले मरीजों की संख्या में बेतहासा वृद्धि होने के कारण प्रदेश के कई जिलों के श्मशान में लाशों की लाइन लगी है। अंतिम संस्कार हेतु परिजन एवं ड्यूटी अमला को घंटों इंतजार करना पड़ रहा है। श्मशान में लाशें जलाने हेतु जगह की कमी हो गई है। कोरोना संक्रमण की चैन तोड़ने प्रदेश के 22 जिलों में लाकडाउन जारी है। 

निवेदन - कृपया शासन द्वारा जारी कोरोना गाइडलाइन का शतप्रतिशत पालन करें।  घर से बेवजह बाहर न जाएँ। फिजिकल डिस्टेंसिंग, मास्क और सेनेटाइजर का उपयोग करें। घर में रहे सुरक्षित रहें। 

Post a comment

0 Comments