स्कूल खोलने से हो सकता है कोरोना तो मोहल्ले क्लास से क्यों नहीं..?, अनाब - शनाब आदेश से परेशान शिक्षक - जाकेश साहू Demand To Close School As Well As Mohalla Class

 स्कूल के साथ - साथ मोहल्ला क्लास भी बंद करने की मांग Demand To Close School As Well As Mohalla Class 

a2zkhabri.com रायपुर - प्रदेश में कोरोना के लगातार बढ़ रहे मामले को देखते हुए प्रदेश सरकार ने सभी शासकीय एवं प्राइवेट स्कूलों, कालेजों एवं आंगनबाड़ी केंद्रों को बंद करने आदेश जारी कर दिए है। लेकिन कई जिलों में शिक्षा विभाग के अधिकारीयों के द्वारा मौखिक आदेश जारी कर मोहल्ला क्लास लगाने हेतु दबाव बनाया जा रहा है। जबकि शासन का स्पष्ट निर्देश है कि किसी भी परिस्थिति में अभी शिक्षण संस्थान नहीं खोलना है तथा बच्चो की भीड़ इकट्ठी नहीं करनी है। 

इसे भी पढ़ें - बच्चों की छुट्टी शिक्षकों की नहीं - शिक्षा सचिव , क्या जारी रहेगा मोहल्ला क्लास ..?

शिक्षक नेता श्री जाकेश साहू ने कहा की जब शासन ने कोरोना के खतरे को भांपते हुए तत्काल सभी शासकीय एवं प्राइवेट सभी स्कूल कालेज को बंद करने आदेश जारी किये है तो कई जिलों के शिक्षा अधिकारीयों के द्वारा मौखिक आदेश जारी कर मोहल्ला क्लास हेतु दबाव बनाना उचित नहीं है। जब स्कूल खोलने से कोरोना फ़ैल सकता है तो मोहल्ला क्लास से भी कोरोना फ़ैल सकता है। 

इसे भी पढ़ें - 7th pay commission breaking होली से पहले जारी होगा महंगाई भत्ता। 

इधर प्रदेश में कोरोना के बढ़ते स्तर को देखते हुए राज्य शासन ने स्कूलों को बंद करने के साथ - साथ सभी प्रकार के ऐसे आयोजनों पर रोक लगाने के दिशा निर्देश जारी किये है, इसके बाद भी कुछ ब्लाकों में संकुल समन्वयकों के द्वारा टीचिंग लर्निंग मटेरियल प्रदर्शनी के नाम पर एक जगह शिक्षकों को बुलाकर भीड़ इकठ्ठा करने मौखिक आदेश जारी कर रहे है। ऐसे में कोरोना फैला तो जिम्मेदार कौन होगा। 

इसे भी देखें - परीक्षा तुंहर दुआर - अब घर बैठे होगा वार्षिक परीक्षा। 

श्री जाकेश साहू ने कहा कि जब बच्चों को स्कूल बुलाने से , भीड़ इकठ्ठा करने से कोरोना हो सकता है तो शिक्षकों के भीड़ इकठ्ठा करने से भी हो सकता है। इस पुरे मामले पर श्री साहू ने कहा कि शिक्षा विभाग के अधिकारीयों के द्वारा ऐसे अनाब-शनाब आदेश निकाला जायेगा तो संगठन के माध्यम से जोरदार विरोध प्रदर्शन करेंगे। शिक्षा विभाग के अधिकारी मौखिक आदेश को हथियार बनाकर शिक्षकों को परेशान कर रहे है ,लिखित रूप से कोई अधिकारी आदेश जारी नहीं कर रहा ताकि किसी भी प्रकार की घटना होने पर साफ़ मुकर जाएँ। 

इसे भी देखें- सभी बच्चों को मिलेगा जनरल प्रमोशन , 10 वीं, 12 वीं की कैसे होगी परीक्षा देखें। 

स्कूल के साथ - साथ मोहल्ला क्लास भी हो बंद - राज्य शासन ने कोरोना के संक्रमण के खतरे को देखते हुए स्कूल, कालेजों को बंद कराया है तो मोहल्ला क्लास को भी बंद करने चाहिए, क्योंकि भीड़ स्कूल में हो या किसी गली मोहल्ले में बात एक ही है। मोहल्ले के किसी एक बच्चे के संक्रमण होने से पुरे बच्चों में संक्रमण फ़ैल सकता है। वैसे भी छोटे बच्चों से फिजिकल डिस्टेंसिंग का पालन कराना आसान काम नहीं है। 

Post a comment

0 Comments