शिक्षकों की शाला में उपस्थिति अनिवार्य - शिक्षा सचिव Shikshakon Ki Shala Me Upasthiti Anivary

 बच्चों की छुट्टी , लेकिन शिक्षकों की संस्था में उपस्थिति अनिवार्य - शिक्षा सचिव Compulsory Education Secretary Daily Attendance Of Teachers In School 

a2zkhabri.com रायपुर - प्रदेश में कोरोना संक्रमण के चलते पुनः सभी स्कूल, कालेजों एवं आंगनबाड़ी केंद्रों को पुनः आगामी आदेश तक बंद कर दिया गया है। लेकिन स्कूलों में शिक्षकों की उपस्थिति अनिवार्य है। प्रदेश में दो दिनों तक शिक्षकों की उपस्थिति को लेकर सोसल मिडिया के माध्यम से तरह - तरह की बाते सामने आ रही थी। जिसे आज प्रदेश के स्कूल शिक्षा विभाग के सचिव श्री अलोक शुक्ला ने स्पष्ट किया की सभी शिक्षकों का स्कूल में उपस्थिति अनिवार्य है। 

इसे भी देखें - होली से पहले शासकीय कर्मचारियों को डीए का तोहफा। 

असमंजस में थे शिक्षक - कल जैसे ही केबिनेट मंत्री मंडल के बैठक के बाद स्कूल कालेज आंगनबाड़ी केंद्र को बंद करने का आदेश जारी हुआ वैसे ही शिक्षकों के मन में असमंजस पैदा हो गया कि , बच्चो की छुट्टी के बाद क्या हमें स्कूल जाना पड़ेगा या नहीं। सोसल मिडिया के माध्यम से बहुत से शिक्षक सलाह मशवरा कर रहे थे। लेकिन कोई कन्फर्म जानकारी नहीं दे पा रहे थे। देर शाम डीपीआई से भी आदेश जारी हो गए है  जिसे नीचे डाउनलोड कर सकते है। 

इसे भी देखें - अब बच्चे घर से हल करेंगे पर्चा , आदेश हुआ जारी। 

आज श्री अलोक शुक्ला ने न्यूज़ पोर्टल को दिए गए बयान में बताया की छुट्टी केवल बच्चों के लिए है। सभी शिक्षकों  को पूर्व की भांति लगातार स्कूल आना होगा। शिक्षा सचिव द्वारा जारी बयान के बाद अब प्रदेश के सभी शिक्षक नियमित रूप से स्कूल जायेंगे और विभागीय कार्य , दस्तावेज दुरुस्तीकरण आदि कार्य करते रहेंगे। 

इसे भी देखें - छत्तीसगढ़ सभी बच्चों को जनरल प्रमोशन। 

स्कूल नहीं जाने पर होगी वेतन में कटौती - शिक्षा सचिव ने स्पष्ट किया की शिक्षक स्कूल नहीं जाते पाए गए और ऑनलाइन क्लास नहीं लेंगे तो उनके वेतन में कटौती भी की जा सकती है। अतः स्कूल खुलने के पूर्व  सभी शिक्षकों की उपस्थिति और ऑनलाइन क्लास लेना अनिवार्य होगा। 

इसे भी देखें- स्कूल खोलने से हो सकता है कोरोना तो , मोहल्ले क्लास से क्यों नहीं - जाकेश साहू 

जारी रहेगा मोहल्ला क्लास - कक्षा 1 से 8 तक के बच्चों हेतु पिछले एक वर्ष से ऑनलाइन क्लास अथवा मोहल्ला क्लास जारी है। शिक्षक स्थानीय परिस्थिति अनुसार बच्चों के मोहल्ला, पारा, चौक आदि जगह पर जाकर सोसल डिस्टेंसिंग का पालन करते हुए अध्यापन करा रहे है वह लगातार जारी रहेगा। मोहल्ला क्लास बंद करने के सम्बन्ध में किसी प्रकार का कोई आदेश, बयान अभी तक जारी नहीं हुए है। 


Post a comment

0 Comments