शिक्षकों व कर्मियों का वेतन इस माह से आधा The Salary Of Teachers And Personnel Is Half Of This Month

 कोरोना का असर अब शिक्षकों और कर्मचारियों को आधा वेतन The Salary Of Teachers And Personnel Is Half Of This Month 


a2zkhabri.com बिलासपुर - द जैन इंटरनेशनल स्कूल में पिछले नवंबर माह से शिक्षकों एवं कर्मचारियों का वेतन आधा कर दिया गया है। इससे आक्रोशित शिक्षक भूख हड़ताल करने की चेतावनी दी है। 

इसे भी पढ़ें - निष्ठा प्रशिक्षण मॉड्यूल 7, 8, एवं 9 का प्रश्नोत्तरी उत्तर सहित देखें और पाए 10 में 10 अंक। 

स्कूल में कार्यरत शिक्षक , शिक्षिकाओं के साथ दूसरे कर्मचारियों का वेतन बिना किसी सुचना व कारण के आधा कर दिया गया है। इसके चलते इनके समक्ष परिवार की भरण पोषण की समस्या आ गई है। वहीँ वे लोग मानसिक परेशानियों का भी सामना कर रहे है। 

इसे भी देखें - पटवारी के नहीं लगाने पड़ेंगे चक्कर , ऑनलाइन निकाले गए दस्तावेज होगा मान्य। 

इसके पहले अप्रैल से अगस्त माह तक कुल वेतन का 30 प्रतिशत ही दिया जा रहा था। जब पालक स्कूल फीस देना शुरू किया तो प्रशासन को दिखाने के लिए सिर्फ सितम्बर एवं अक्टूबर माह का पूरा वेतन दिया गया। वही अब पिछले नवम्बर माह से वेतन अब आधा कर दिया गया है , जबकि पालक फीस जमा कर रहे है। हाई कोर्ट ने भी कहा था कि एकेडमिक फीस लेने पर अपने शिक्षकों को पूरा वेतन देना पड़ेगा। 

इसे भी देखें - बिलासपुर यूनिवर्सिटी सभी रिजल्ट जारी , नाम से देखें किसी भी का रिजल्ट आसानी से यहाँ। 

लेकिन जैन इंटरनेशनल स्कूल मैनेजमेंट तानाशाही रवैया अपनाते हुए दीपावली में ही आधा वेतन देने का फरमान जारी कर दिया , साथ ही धमकी भी दी गई की मार्च तक आधा ही वेतन मिलेगा। ऐसे में जिसे काम करना है करें अन्यथा छोड़ कर चले जाए।  मैनेजमेंट के इस अड़ियल रवैये के कारण प्रचार्य सहित सभी शिक्षकों में रोष व्यापत है। 

शिक्षकों ने भी अपने पक्ष रखते हुए कहा है की यदि इसी माह से पूरा वेतन नहीं दिया जाता तो स्कूल के सामने भूख हड़ताल पर बैठने के लिए बाध्य होंगे। इसके लिए स्कूल प्रबंधन ही जिम्मेदार होगा। 

इधर शिक्षाकर्मी संघ ने जताया अटल का आभार - प्रदेश के शिक्षाकर्मियों में संविलियन की सौगात से ख़ुशी का माहौल है। इसके लिए संघर्ष के दिनों में साथ देने वाले जनप्रतिनिधियों का आभार व्यक्त किया गया। शिक्षाकर्मियों के संगठन संविलियन अधिकार मंच ने प्रदेश संयोजक विवेक दुबे के नेतृत्व में गुरुवार को कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष अटल श्रीवास्तव से मुलाक़ात कर उन्हें आभार पत्र सौंपा। साथ ही कहा की अब शिक्षाकर्मी परंपरा लगभग समाप्त हो चुकी है। वही आने वाले समय में भी जो समस्याएं और मांग बची है उसके लिए भी सहयोग मिलता रहेगा। 

Post a comment

0 Comments