स्कूल शिक्षा विभाग 14580 पदों में भर्ती मेरिट सूचि में एक वर्ष की वृद्धि CG Regular Teacher Recruitment 2020 Post - 14580

14580 पदों में नियमित शिक्षक भर्ती मेरिट, चयन सूचि की वैधता में एक वर्ष की वृद्धि  CG Regular Teacher Recruitment 2020 Post - 14580 

a2zkhabri.com रायपुर - मुख्यमंत्री भूपेश बघेल के निर्देश पर स्कूल शिक्षा विभाग के अंतर्गत व्यापम द्वारा भरे जा रहे 14580 पदों में भर्ती की चयन सूचि की वैधता को 1 वर्ष के लिए बढ़ा दिया गया है। उक्त सम्बन्ध में आज छत्तीसगढ़ शासन मंत्रालय द्वारा आदेश जारी कर दिया गया है। 

इसे भी पढ़ें- सोते हुए महिला के मुंह में 4 फ़ीट लम्बा सांप घुसा। 

उक्त आदेश में उल्लेख है कि लोक शिक्षण संचनालय ने 9 मार्च 2019 को 14580 पदों पर सीधी भर्ती हेतु विज्ञापन जारी किया था। और उक्त पदों में व्यापम द्वारा विभिन्न चरणों में परीक्षा आयोजित कर परीक्षा परिणाम भी जारी किया जा चूका है। इस विज्ञापन की कंडिका में यह उल्लेख था की व्यापम से प्राप्त परीक्षाफल सूचि , परीक्षाफल जारी होने के दिनांक से एक वर्ष तक वैद्य होगी। 

इसे भी देखें- प्रदेश में 1 लाख 58 हजार बनेंगे आवास योजना के तहत मकान नयी सूचि जारी। 

लेकिन देश विदेश सहित प्रदेश में कोरोना वायरस के चलते वर्तमान स्थिति में स्कूल कालेज पिछले 5 - 6 माह से बंद है। जिस कारण से उक्त भर्ती प्रक्रिया को पूर्ण नहीं किया गया है। अतः उक्त परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए राज्य के भूपेश सरकार ने चयन सूचि की वैधता को आगामी एक वर्ष के लिए बढ़ा दिया है।

इसे भी पढ़ें- महाविद्यालयीन परीक्षार्थियों हेतु परीक्षा सम्बन्धी नवीन सुचना जारी। 

चयनित अभ्यर्थियों में थी भय का माहौल - कोरोना वायरस के चलते भर्ती प्रक्रिया पूर्ण नहीं होने के कारण तथा भर्ती प्रक्रिया में जारी नियम के तहत चयन सूचि की वैधता को लेकर उनके मन में भय उत्त्पन्न हो गया था , क्योंकि नियमतः एक वर्ष के लिए सूचि मान्य होने की बात निर्देश में थी वही लगभग एक वर्ष चयन सूचि को जारी हुए हो गया था। अतः मन में चयन सूचि रद्द न हो जाये ऐसा माहौल बन गया था। 

इसे भी देखें- छत्तीसगढ़ के 6 युवाओं का कलेक्टर हेतु चयन देखें उनका नाम , पता। 

चयनित अभ्यर्थियों के लिए बड़ी राहत - मुख्यमंत्री भूपेश बघेल ने 14580 पदों में चयनित अभ्यर्थियों को बड़ी राहत देते हुए चयन सूचि की वैधता को एक वर्ष के लिए बढ़ा दिए है। अब उनके मन से भय समाप्त हो गया है। लेकिन चयनित अभ्यर्थियों की जब तक पदस्थापना नहीं हो जाती तब तक उन्हें पूर्ण राहत मिलने वाली नहीं है। 

पदस्थापना हेतु आंदोलन जारी - चयनित अभ्यर्थियों एवं कुछ शैक्षिक, राजनितिक संगठन द्वारा लगातार पदस्थापना हेतु मांग, ज्ञापन, रैली आंदोलन करने की खबर भी दिन प्रतिदिन मिलती रहती है। लेकिन अभी जब तक कोरोना वायरस का संक्रमण ख़त्म नहीं हो जाता और स्कूल कालेज खुल नहीं जाते तब तक पदस्थापना की सम्भावना दिखाई नहीं पद रही है। 

Post a comment

0 Comments